Bank Account Alert: बैंक खाताधारक भूलकर भी ना करें ये 4 गलतियां, वरना खाता हो जाएगा बंद

WhatsApp Channel (Follow Now) Join Now
WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now

नई दिल्ली:  आज लगभग हर व्यक्ति अपना बैंक खाता है। कई लोगों के पास एक से अधिक बैंक खाते होते हैं। लोग अपनी मेहनत से कमाई को बैंक खाते में रखते हैं, ताकि वे जरूरत पड़ने पर इसे इस्तेमाल कर सकें। बैंक खाता खुलवाने पर कई अन्य सुविधाएं मिलती हैं, जैसे इंटरनेट बैंकिंग, चेक बुक और डेबिट कार्ड। यह करंट अकाउंट, जीरो बैलेंस अकाउंट या बैंक अकाउंट हो सकता है।

हमेशा अपने बैंक खाते का उपयोग नहीं करने वाले कई लोगों से मुलाकात होती है। शायद आपको पता नहीं है कि हमारी कुछ गलतियों से बैंक खाता बंद हो सकता है। इसलिए बैंक खाता खुलवाने के बाद कुछ बातों का ध्यान रखना महत्वपूर्ण है। तो चलिए इसके बारे में आपको बताते हैं। इस लेख में आप बैंक खाता बंद होने की संभावित वजहों को जान सकते हैं..

अगर दो साल में कोई व्यापार नहीं हुआ है-

बैंक आपके जीरो बैलेंस, सेविंग या करंट खातों को इनऑपरेटिव बैंक खातों की सूची में डाल देगा अगर आपने पिछले दो वर्षों में कोई लेन-देन नहीं किया है। वहीं, ऐसे बैंक खाते इनऑपरेटिव हो जाते हैं जब वे निष्क्रिय हो जाते हैं।

प्रूफ के बिना पैसे आने पर—

सोचिए अगर आपके बैंक खाते में अचानक एक बहुत बड़ा पैसा आ जाए। उदाहरण के लिए, अगर आपके खाते में एक करोड़ रुपये आ जाएं और आप इन पैसों का प्रूफ नहीं है, तो ऐसी स्थिति में आपका बैंक खाता बंद हो जाता है और आयकर विभाग आपकी जांच करता है।

केवाईसी नहीं होने पर—

हर बैंक में प्रत्येक ग्राहक को केवाईसी करना अनिवार्य है। वहीं, RBI की नियमों के अनुसार खाताधारक को तीन साल में एक बार KYC अपडेट करना होगा। लेकिन अगर कोई ग्राहक ऐसा नहीं करता, बैंक आपका खाता बंद कर देगा।

संदिग्ध संचार होने पर-

अगर किसी खाताधारक के बैंक खाते से संदिग्ध भुगतान होने लगे, अचानक विदेश से बहुत सारे पैसे आने लगे, विदेश में बहुत कुछ खरीदा गया आदि। तो ऐसी स्थिति में भी बैंक खाते को बंद कर देता है। यद्यपि, मामले की सही पुष्टि होने पर बैंक खाते को फिर से शुरू किया जाता है।

Leave a Comment

WhatsApp चैनल ज्वाइन करें