पिता-बेटे के बीच रोजाना होती है लड़ाई? घर की इस दिशा में हो सकता है वास्तु दोष,यूं करें दूर

WhatsApp Channel (Follow Now) Join Now
WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now

घर में कई बार ऐसी ऐसी समस्याएं इजात हो जाती है, जिसके पीछे का कारण कभी कभी समझ नहीं आता. इन्हीं में से एक ऐसी समस्या है जिसकी वजह से व्यक्ति को घर में प्रवेश करने से भी चिंता होने लगती है. यह समस्या है परिवार के आपसी सदस्यों के बीच मतभेद. पिता का पुत्र के साथ, सांस का बहु के साथ या फिर  पड़ोसियों के साथ झगड़ा.

अगर किसी व्यक्ति के घर में ये समस्याएं आम है तो इसके पीछे का कारण कोई और नहीं बल्कि घर का वास्तु दोष है. वास्तु दोष का असर घर के प्रत्येक सदस्य पर पड़ता है.

दरअसल वास्तुशास्त्र के अनुसार घर का हर एक कोना घर के सदस्य के लिए निर्धारित है. यदि इन कोणों के अनुसार कुछ चीजों को फॉलों नहीं किया जाए तो वास्तु दोष का सामना करना पड़ता है. आइए विस्तार में वास्तुशास्त्र के अनुसार घर के कोणों के बारे में जानें.

जानें पिता पुत्र का कोणा

वास्तु शास्त्र के अनुसार घर की पूर्व दिशा पिता पुत्र के लिए निर्धारित होती है. दरअसल पूर्व दिशा का स्वामी सूर्य को माना जाता है. यदि इस दिशा में वास्तु दोष होगा तो पिता पुत्र में कभी नहीं बनेगी.

इतना ही नहीं पुत्र कभी भी अपने पिता के आज्ञा का पालन नहीं करेगा. साथ ही संतान की उन्नति भी नहीं होती और स्वास्थ्य भी हमेशा प्रभावित रहता है.

जानें घर के सदस्यों का कोणा

वास्तुशास्त्र के अनुसार घर के सदस्यों के लिए उत्तर दिशा लाभकारी मानी जाती है. उत्तर दिशा का स्वामी बुध होता है. यदि इस दिशा में वास्तु दोष हो तो घर के सदस्यों की बुद्धि भ्रमित हो जाती है. इतना ही नहीं इन लोगों में आपस में मतभेद होने शुरू हो जाते हैं. साथ ही आमदनी से ज्यादा खर्चे बढ़ जाते हैं.

सास बहू का कोण

घर का आग्नेय कोण यानी की दक्षिण पूर्व की दिशा में कोई वास्तु दोष होता है तो इसका सीधा असर सास बहू के रिश्ते में देखने को मिलता है.

पति पत्नी का कोण

दक्षिण पश्चिम दिशा पति पत्नी का होता है. दक्षिण पश्चिम दिशा का स्वामी राहु है. इस कोण में यदि दोष होगा तो पति पत्नी में टकरार शुरू हो जाएगी. साथ ही घर के सदस्यों के स्वास्थ्य पर भी इकसा असर पड़ेगा. घर में बरकत भी रूक जाती है.

पड़ोसी का कोण

उत्तर पश्चिम दिशा का स्वामी चंद्र होता है. यदि इसमें वास्तु दोष पाया जाए तो संतान की शादी में देरी होती है. साथ ही हमेशा पड़ोसियों से झगड़ा होता रहेगा. 

Leave a Comment

WhatsApp चैनल ज्वाइन करें