जब जवान महिलाएं कर रही हो ये काम, तो मर्द तुरंत हटा लें अपनी नजरें 

WhatsApp Channel (Follow Now) Join Now
WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now

आचार्य चाणक्य ने नीति शास्त्र में सिर्फ महिलाओं के लिए ही नियम नहीं बनाये हैं, बल्कि पुरुषों को भी संयमित आचरण के लिए कहा है. फिर भी अगर कोई पुरुष ऐसा काम करता है तो गंभीर परिणाम भुगतने पड़ सकते हैं. ऐसे पुरुष का पतन शुरू हो जाता है. 

आचार्य चाणक्य ने नीतिशास्त्र में बताया है कि किसी भी  पुरुष को खाना खाती हुई महिला की तरफ कतई नहीं देखना चाहिए. ये शिष्टाचार के खिलाफ होता है और भोजन करती महिला भी असहज होकर कम खाना खाती है और भूखी रह जाती है. इतनी शराब घर में रखी तो कोई बात नहीं, जानें क्या कहता है कानून

अगर कोई स्त्री कपड़े पहन रही हो या उन्ही ठीक कर रही होती है तो उसकी तरफ पुरुषों की नजरें जरूर जाती हैं. लेकिन चाणक्य ने इसे अपराध की श्रेणी में रखा है.

चाणक्य कहते हैं कि अपने कपड़े ठीक कर रही महिलाओं छींकती या जम्हाई लेती महिलाओं को भी पुरुषों को कभी नहीं देखना चाहिए ये मर्यादा के खिलाफ माना गया है. 

कई बार महिलाएं जब श्रृंगार करती हैं तो पुरुष उन्हे निहारते हैं लेकिन ये भी बिल्कुल गलत हैं. आचार्य चाणक्य ने इसे भी अपराध माना है. इतना ही नहीं खुद की या फिर बच्चे की तेल मालिश करती महिलाओं को देखना भी आचार्य चाणक्य ने गलत बताया है. 

Leave a Comment

WhatsApp चैनल ज्वाइन करें